कुछ हदे है मेरी कुछ  हदे है तेरी लेकिन दायरो में भी इश्क होता है

जरा छू लूं तुमको की मुझको यंकिन आ जाए लोग कहते हैं मुझे शाये से मोहब्बत है

लत तेरी लगी नशा शारेआम होगा हर लम्हा मेरे इश्क का अब तेरे नाम होगा

छुपा लो मुझे तुम अपनी सांसों में कोई पुछे तो बोल देना जिंदगी है मेरी

ये लकीरे ये नसीब ये किस्मत सब फरेब के है हाथो में तेरा हाथ होने से ही मुकम्मल जिंदगी के मैंने है

जी चाहे की दुनिया की हर एक फ़िकर भुला कर दिल की बातें सुनाऊं तुझे मैं पास बिठाकर

अच्छा लगता है तेरे नाम मेरे नाम के साथ जैसे कोई खूबसूरत जगह की हसीन शाम के साथ

मोहब्बत की कहूं या बंदगी कह दूं बुरा मानो न मगर हमदम तो तुम्हें जिंदगी कह दूं

मैं बन जाऊं रेट सनम तुम लहर बन जाना मुझे अपनी बहो में अपने साथ ले जाना

पता है हमें प्यार करना नहीं आता मगर जीतना भी किया सिर्फ तुमसे किया है